इसलिए कहते हैं SIP करो! इस स्मॉल-कैप फंड ने निवेशकों को दिया 220 फीसदी रिटर्न


नई दिल्ली. इक्विटी म्यूचुअल फंड में अलग-अलग श्रेणियों के फंड्स शामिल होते हैं. लॉर्ज कैप, मिड कैप और स्मॉल कैप फंड्स. फंड हाउस स्मॉल कैप स्कीम के जरिए छोटे मार्केट कैप वाली कंपनियों में निवेश करते हैं. लार्ज कैप या मिड कैप की तुलना में स्मॉल कैप कैटेगरी कुछ रिस्की मानी जाती है, लेकिन सही जगह पैसा लगाने पर शानदार रिटर्न मिल सकता है. सेबी की गाइडलाइन के मुताबिक, फंड हाउस को स्मॉल कैप स्कीम की कुल संपत्ति का कम से कम 80 फीसदी हिस्सा स्मॉल कैप कंपनियों में निवेश करना होता है.

यहां हम निप्पॉन इंडिया स्मॉल कैप फंड की चर्चा कर रहे हैं. इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान-ग्रोथ ऑप्शन ने 10 साल के एसआईपी में निवेशकों को 219.71 फीसदी का रिटर्न दिया है. यही नहीं, आपको बता दें कि यह रेटिंग एजेंसी क्रिसिल और वैल्यू रिसर्च की ओर से टॉप रेटेड फंड है. निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड का यह स्मॉल कैप फंड 16 सितंबर 2010 को लॉन्च किया गया था. यह अपनी श्रेणी में मिड साइज का फंड है.

ये भी पढ़ें- Paradeep Phosphates के शेयर खुले 5 फीसदी ऊपर, बेचें या होल्‍ड करें? जानिए एनालिस्‍ट की राय

19768 करोड़ रुपये का AUM
एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) का आकार 19,768.28 करोड़ रुपये है. 26 मई 2022 को इसका नेट एसेट वैल्यू (NAV) 83.6924 रुपये रहा. इस फंड का एक्सपेंस रेश्यो 1.02 फीसदी है, जबकि इस कैटेगरी का औसत 0.76 फीसदी है. इसका मतलब यह हुआ कि इस फंड का एक्सपेंस रेश्यो अपनी कैटेगरी एवरेज की तुलना में ज्यादा है.

आपको यहां बता दें कि म्यूचुअल फंड के प्रबंधन पर जो खर्च आता है, इसी खर्च का अनुपात एक्सपेंस रेश्यो कहलाता है. समीर रच्छ जनवरी 2017 से इस फंड का मैनेजमेंट करते हैं. अगर आप इस फंड में निवेश करना चाहते हैं, तो आपको अपने फाइनेंसियल एडवाइजर से सलाह जरूर लेनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- अडानी समूह की इस कंपनी ने एशिया की सभी नई लिस्टेड कंपनियों को रिटर्न के मामले में पछाड़ा

4 स्टार की रेटिंग
गुड रिटर्न्स की रिपोर्ट के मुताबिक, निप्पॉन इंडिया स्मॉल कैप फंड को निवेश के लिए हाईली रिस्की दर्जा दिया गया है. हालांकि, CRISL ने इसे 4 स्टार की रेटिंग दी है. फंड ने पीयर फंड्स के बीच औसत प्रदर्शन दिया है. इस फंड ने लॉन्चिंग के बाद से एकमुश्त यानी लमसम निवेश पर सालाना औसत 19.19 फीसदी का रिटर्न दिया है.

वहीं, एसआईपी की बात करें, तो इस फंड ने 1 साल में जहां 2.60 फीसदी निगेटिव रिटर्न दिया है, वहीं 2 साल में 37.84 फीसदी, 3 साल में 63.68 फीसदी, 5 साल में 75.91 फीसदी जबकि 10 साल में 219.71 फीसदी रिटर्न दिया है.

(Disclaimer: यहां बताए गए निवेश के विकल्प आंकड़ों के आधार पर सिर्फ जानकारी के लिए दिए गए हैं. यदि आप इनमें से किसी में भी पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह के लाभ या हानि के लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Business news in hindi, Investment, Mutual fund



Source link

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.