Black Monday : सेंसेक्स 1457 अंक टूटा, निफ्टी 15775 के नीचे हुआ बंद, निवेशकों के डूबे 6.64 लाख करोड़ रुपये


नई दिल्ली. सप्ताह के पहले कारोबारी दिन यानी सोमवार को बीएसई (BSE) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स (Sensex) जहां 1200 अंक टूटकर खुला, जबकि एनएसई (NSE) के निफ्टी (Nifty) ने 16,000 के स्तर के नीचे कारोबार शुरू किया. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1456.74 अंक यानी 2.68 फीसदी टूटकर 52,846.70 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 427.40 अंक यानी 2.64 फीसदी की टूटकर 15,774.40 के स्तर पर बंद हुआ.

निवेशकों के करीब 6.5 लाख करोड़ रुपये स्वाहा

सोमवार के कारोबार में निवेशकों के 6.5 लाख करोड़ रुपये से ज्‍यादा डूब गए. बाजार बंद होने के बाद बीएसई पर लिस्टेट कंपनियों का मार्केट कैप 245.28 लाख करोड़ रुपये था. इसके पहले के सत्र में यह 251.8 लाख करोड़ रुपये था. इस तरह निवेशकों के 6.64 लाख करोड़ रुपये मार्केट की गिरावट में स्वाहा हो गए.

टॉप लूजर और गेनर

सोमवार के कारोबार में Nestle India और Bajaj Auto निफ्टी के टॉप गेनर रहे. वहीं Bajaj Finserv, Bajaj Finance, Tech Mahindra, IndusInd Bank और Hindalco Industries  निफ्टी के टॉप लूजर रहे.

ये भी पढ़ें- LIC स्टॉक में एंकर निवेशकों के लिए लॉक-इन पीरियड खत्म, शेयर 3 फीसदी गिरे, निवेशकों के 1.65 लाख करोड़ रुपए स्वाहा

शुक्रवार को लाल निशान के साथ बंद हुआ था शेयर बाजार

पिछले सत्र में यानी शुक्रवार को कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1016.84 अंक यानी 1.84 फीसदी टूटकर 54,303.44 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 276.30 अंक यानी 1.68 फीसदी की टूटकर 16,201.80 के स्तर पर बंद हुआ.

ये भी पढ़ें- लगातार कमजोर हो रही भारतीय करेंसी, क्यों गिर रहा रुपया और अब आगे क्या?

रुस्तमजी ग्रुप की कंपनी कीस्टोन रियल्टर्स ने आईपीओ के लिए पेपर जमा किया

रियल एस्टेट की एक और कंपनी अपना आईपीओ लाने जा रही है. रुस्तमजी समूह की कंपनी कीस्टोन रियल्टर्स ने आईपीओ के माध्यम से लगभग 850 करोड़ रुपये जुटाने के लिए सेबी के पास पेपर जमा किया है. आईपीओ में 700 करोड़ रुपये का फ्रेश इश्यू और प्रमोटर द्वारा 150 करोड़ रुपये तक का ओएफएस शामिल है.

Tags: BSE, Money Making Tips, Nifty, NSE, Sensex, Share market



Source link

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.