​CBSE Allows Maths In Class 11 For Students Who Passed 10th With Basic Maths


CBSE Extends Relaxation: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा 11वीं क्लास में गणित (Maths) विषय लेने वाले छात्र-छात्राओं को राहत दी है. ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने 10वीं में बेसिक गणित पढ़ी थी, अब वह 11वीं में गणित विषय की पढ़ाई कर सकेंगे. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कोरोना के दौरान दी गई इस छूट को वर्ष 2022-23 के लिए आगे बढ़ाने का निर्णय किया है. यह छूट 11वीं क्लास के छात्र-छात्राओं के वर्तमान बैच की सुविधा के लिए विशेष उपाय के रूप में देखी जा रही है. कोविड- 19 से पहले 11वीं में गणित विषय लेने की अनुमति केवल उन्हीं छात्र-छात्राओं को थी, जिन्होंने 10वीं में स्टैंडर्ड मैथ्स की पढ़ाई की थी.

सीबीएसई (CBSE) ने 2020-21 और 2021-22 के शैक्षणिक सत्र में भी इस नियम को लेकर विद्यार्थियों को छूट दी थी. लेकिन अब कोविड (Covid) के कारण चालू सत्र में भी यह छूट दी जा रही है. इस संबंध में बोर्ड ने स्कूलों के प्रिंसिपल को एक सर्कुलर भी भेजा है. जिसके मुताबिक सत्र 2022 कोविड से बुरी तरह प्रभावित हुआ है और सत्र में पहले ही देरी हो चुकी है. अब इस सत्र की शेष गतिविधियों को समय पर पूरा करने की जरूरत है. ऐसे में इस छूट को एक वर्ष 2022-23 के लिए आगे बढ़ाने का निर्णय सीबीएसई ने लिया है.  

एक का करना होता है चयन
आपको बता दें कि इससे पहले 10 वीं में जिन्होंने मैथमेटिक्स स्टैंडर्ड की पढ़ाई की है उन्हें ही 11वीं में गणित पढ़ने को मिलता था. वहीं, जिन्होंने 10वीं में बेसिक गणित पढ़ा होता था उन्हें 11वीं में केवल एप्लाइड मैथ लेने की अनुमति थी. सीबीएसई ने विद्यालयों से कहा है कि वह यह देखें कि विद्यार्थियों में 11वीं में गणित की पढ़ाई करने की योग्यता और क्षमता हो. मालूम हो कि 10वीं में छात्रों को बेसिक मैथमेटिक्स व स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स में से किसी एक का चयन करना होता है.

​MPPSC Schedule 2022: मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने जारी किया मेडिकल ऑफिसर भर्ती परीक्षा का शेड्यूल, यहां करें चेक

​UPSC Interview: सिविल सेवा के इंटरव्यू में फेल होने पर करें ये काम, खराब नहीं होगा करियर

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.